Wednesday, September 9, 2009

...दो लड़कियाँ वहां पहले से ही इन्तजार कर रही थी...



दिल्ली के रोहिणी सेक्टर 18 के माउंट आबू पब्लिक स्कूल की 10 वीं क्लास के तीन लड़किया स्कूल गयी तो देर रात तक घर वापस नहीं आयी...लड़कियों के इस तरह गायब होने के बाद उनकी परिजनों के ही नहीं बल्कि पुलिस के भी हाथ पावं फूले हुए है...पुलिस के कई आला अधिकारी देर रात तक स्कूल प्रबंधन और स्कूल वैन के कंडेक्टर सहित चार लड़कों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है,.....दो लड़कियाँ सवरूप नगर और एक रोहिणी की रहने वाली है...छात्रों के गायब होने की सूचना उनके परिजनों को उस समय लगी जब एक लड़की के बहनों ने वैन चालक को बताया की उनकी बहन नहीं आयी है...इस पर लड़की के घर फ़ोन कर पूछा गया तो वह वहां भी नहीं पहुची....स्कूल को भी इसकी कोई खबर नहीं थी...
लड़की के परिजनों को स्कूल वैन के एक कंडेकतर भी गायब था...काफ तलाश के बाद वह मिल गया...सख्ती से पूछताछ करने पर पता लगा की एक लड़की का स्कूल बैग गार्ड रूम से मिला....अभिभावकों के अनुसार स्कूल का कंडेकटर ने कबूल किया है की वह एक लड़की को नयी दिल्ली रेलवे स्टेसन पर छोड़कर आया है...जहाँ से वे राजधानी एक्सप्रेस से गोहाटी के लिए निकली है...दो लड़कियाँ वहां पहले से ही इन्तजार कर रही थी...लड़कियाँ क्यों कैसे और किसके साथ गयी यह एक रहस्य बना हुआ था...इस घटना से पुलिस के हाथ पावं फूले हुए थे
कई घंटो तक पुलिस कई एंगल से जाँच कराती रही...हिरासत में लिए गये कंडेकटर के मोबाइल कॉल से यह पुष्टि हो गयी की आखिरी बार नयी दिल्ली स्टेशन पर कंडेक्टर के मोबाइल पर बात हुई थी...पुलिस ने इस पर तुंरत रेलवे पुलिस से संपर्क साध गया...बाहरी जिला पुलिस उपयुक्त अतुल कटियार ने इलाहाबाद में अपने निजी संपर्क का भी प्रयोग किया जिसके चलते रेलवे पुलिस के साथ साथ वहां की स्थानीय पुलिस भी इलाहाबाद से राजधानी एक्सप्रस में सवार हो गयी और तीनो लड़कियाँ मुग़ल सराय स्टेशन मिल गयी...ये लड़कियाँ गोहाटी के लिए ही क्यों रवाना हुयी यह तो उनके आने पर ही पता लगेगा लेकिन इसमें स्कूल प्रशासन की लापरवाही खुलकर सामने आयी है...स्कूल को इस बात की जानकारी दोपहर से ही थी लेकिन उहोने पैरेंट्स को बताना जरूरी नहीं समझ और उन्हें गुमराह किया...लेकिन इस मामले में पुलिस ने जिस तत्परता और तेजी से काम लिया उसने यह तो साबित कर ही दिया है की यदि पुलिस किसी काम को पूरी गंभीरता से ले तो उसके परिणाम ऐसे ही सुखद आ सकतें है...लड़कियाँ कल तक वापस आएँगी और पुलिस उनके बयान के बाद ही तय करेगी की इस पर वह क्या करवाई कराती है या किन धाराओं के तहत मामला दर्ज कराती है...

4 comments:

  1. चिट्ठाजगत में आपका स्वागत है.......भविष्य के लिये ढेर सारी शुभकामनायें.

    गुलमोहर का फूल

    ReplyDelete
  2. लिखते रहिये. शुभकामनाएं. जारी रहें.

    ---
    क्या आप [उल्टा तीर] के लेखक/लेखिका बनाना चाहेंगे/चाहेंगी- विजिट- http://ultateer.blogspot.com/ होने वाली एक क्रान्ति.

    ReplyDelete
  3. Bahut Barhia...aapka swagat hai... isi tarah likhte rahiye...

    Please Visit:-
    http://hellomithilaa.blogspot.com
    Mithilak Gap...Maithili Me

    http://mastgaane.blogspot.com
    Manpasand Gaane

    http://muskuraahat.blogspot.com
    Aapke Bheje Photo

    ReplyDelete