गुरुवार, 27 अगस्त 2015

दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनावों के नामाकंन से पहले ही 16 FIR दर्ज और सात गाडियाँ जब्त .


 दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनावों के नामाकंन से पहले ही 16 FIR दर्ज और सात गाडियाँ  जब्त .
अनिल अत्री .
आने वाली 11 सितंबर को दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्रसंघ का चुनाव होना है। दिल्ली यूनिवर्सिटी देश की नंबर एक यूनिवर्सिटी मानी जाती है। समाज से लेकर राजनीति तक में इसका खासा दखल है। दिल्ली यूनिवर्सिटी को राजनीति की नर्सरी भी कहा जाता है. आज के कई बड़े नेता डीयू में छात्रसंघ चुनावों में किस्मत आजमा चुके हैं। इस बार का छात्रसंघ चुनाव बेहद दिलचस्प होने वाला है। इस बार आम आदमी पार्टी का छात्र संगठन भी चुनाव में उतर रहा है। दो सितम्बर को नोमिनेशन होंगे चार सितम्बर को नाम वापसी ले सकेगे ..और ग्यारह सितम्बर को वोट डाले जायेगे .. लेकिन अभी तक चुनाव प्रत्यासी घोषित नही पर जमकर चुनाव प्रचार शुरू हो गया साथ ही आचार संहिता उलघन भी खूब हो रहा है .. अभी तक कैम्पस के आसपास पोस्टरबाजी और बैनरों को लेकर आसपास के थानों में सोलह मुकद्दमे दर्ज हो चुके है और सात गाडिया जब्त की गई है ... अकेले मोरीस नगर थाणे की बात की जाए तो इसमें छे मामले दर्ज हो चूके है .जिनमे दो मामले ABVP पर एक मामला NSUI पर एक ही मामला CYSS पर दर्ज हुआ है और ये संगठन खुद सरेआम नियमो  उलघन कर रहे है और आरोप दुसरे संगठनो पर साजिस का लगा रहे है ...
..
ये देखिये देश की नामी यूनिवर्सिटी ..दिल्ली यूनिवर्सिटी .. यहा छात्र संघ चुनाव का बिगुल बज चूका है .. और छात्र संगठनो ने चुनाव प्रचार भी शुरू कर दिया है .. बड़े बड़े नेता भी अपने अपने छात्र संगठनो के प्रचार के लिए यूनिवर्सिटी में और अपने अपने एरिया में छात्रो के बीच जाकर अपने अपने छात्र संगठनो  का प्रचार कर रहे है ... देखिये बिजली के पोल .. स्ट्रीट लाइटो के पोल .. दीवारे .. फूटपाथ सब पोस्टरों से भरे पड़े है ... पोस्टरबाजी पर बैन भले ही हो पर यहा देखिये कोई कौना पोस्टरबाजी से नही बचा .. चुनाव आचार संहिता की कड़ी नजर दिल्ली यूनिवर्सिटी पर होती है .पर जबतक प्रत्यासियो की घोषणा नही हो जाती तब तक पोस्टर लगाते वक्त रंगे हाथो पकड़े जाने वालो के खिलाफ ही मामले दर्ज हो रहे है .. पुलिस रात को गस्त करती है और सरकारी सम्पतियो पर पोस्टरबाजी करते लोगो को रंगे हाथो पकड़ा  है .. खासकर मेट्रो स्टेशन और  विधानसभा पर पोस्टर लगाते पकड़े गये है .. .. अभी तक कैम्पस के आसपास पोस्टरबाजी और बैनरों को लेकर आसपास के थानों में सोलह मुकद्दमे दर्ज हो चुके है और सात गाडिया जब्त की गई है ...
बाईट - मधुर वर्मा ( DCP नार्थ दिल्ली )

पोस्टरबाजी कर सरकारी सम्पति को गंदा करने वालो के खिलाफ की गई इस FIR में एक साल की सजा या पचास हजार जुर्माना या दोनों हो सकते है ...अकेले मोरीस नगर थाणे की बात की जाए तो इसमें छे मामले दर्ज हो चूके है .जिनमे दो मामले ABVP पर एक मामला NSUI पर एक ही मामला CYSS पर दर्ज हुआ है और ये संगठन खुद सरेआम नियमो  उलघन कर रहे है और आरोप दुसरे संगठनो पर साजिस का लगा रहे है ...
बाईट -  छात्र नेता ABVP .. 
बाईट - छात्र नेता NSUI ...
.

दिल्ली यूनिवर्सिटी में अब तक बीजेपी समर्थित एबीवीपी और कोंग्रेस समर्थित एनएसयूआई का ही दबदबा देखने को मिलता रहा है। पिछले चुनाव में बीजेपी के छात्र संगठन एबीवीपी ने चार में से तीन सीटों पर कब्जा किया था। वहीं इस बार भी एबीवीपी और एनएसयूआई में टक्कर की उम्मीद थी लेकिन आम आदमी पार्टी के छात्र संगठन CYSS ने चुनाव में उतरने का फैसला लेकर उनके समीकरणों को बिगाड़ दिया है।  सीवाईएसएस आम आदमी पार्टी का छात्र संगठन है। इसने पहले से ही प्रचार शुरू कर दिया है। आम आदमी पार्टी के कई बड़े नेता डीयू का सेशन शुरू होने वाले दिन छात्रों का स्वागत करते दिखे। AAP के विधायक इस सेशन के शुरुआत में कैम्पस में गये और नये छात्रो के वैलकम के बहाने छात्रो में अपने संगठन की पैठ बनानी चाही ... ये आम आदमी पार्टी की रणनीति है वो दिल्ली में सभी जगहों पर खुद को स्थापित करना चाहती है। दिल्ली विधानसभा में 67 सीटें जीतने के बाद आप की नजरें डीयू और उसके बाद एमसीडी पर लगी हैं।  अब इतना जरुर है की यूनिवर्सिटी से राजनीति की शुरुआत होती है पर यहा इन चुनावों में छात्रो को राजनीति सीखने के साथ साथ चुनाव आचार संहिता जैसे नियमो के पालन भी सिखने चाहिए .. अब जरूरत है प्रशासन भी छात्र संगठनो के इन चुनावों में सख्ती से काम ले क्योकि छात्र सगठनों के चुनाव अधिकतर जगह हिंसक हो जाते है ....
....
अनिल अत्री दिल्ली .......................


दिल्ली में कैदियों में गेंगवार दो की हत्या ..

.. देश की राजधानी दिल्ली में बदमासो की गेंगवार इस कदर की इसके चलते तिहाड़ जेल के कैदियों ने दो कैदियों की हत्या कर दी ... मंगलवार को दिल्ली के रोहिणी कोर्ट से तिहाड़ जेल जा रही कैदियों की वैन में कैदियों के दो गुटो का  आपस में हुआ झगड़ा । आपसी झगड़ा नीरज बवानीया गैंग और नीतू दाबोदिया गैंग में हुआ । दोनों गैंग के खूंखार अपराधी एक ही वैन में थे और सभी हत्या के मामले में जेल में बन्द है । नीतू दाबोदिया गैंग के दो लोगो की इस वैन में हुई गैंगवार में मौत हो गई । बाहरी जिला पुलिस ने इन खूंखार कैदियों को इस मामले में रोहिणी कोर्ट में पेश किया पर कोर्ट के आसपास दोनों पक्षों के लोग होने की आशंका के चलते इन कैदियों को रोहिणी कोर्ट की लोकअप से कोर्ट रूम तक ले जाने में भी खतरा था ..इसलिए पुलिस ने जज साहब को लिखित में अप्लिकेशन देकर लोकअप रूम में ही सुनवाई की मनाग की .. पुलिस ने बार एप्लीकेशन देकर सुरक्षा कारणों का हवाला दिया आखिरकार इसके बाद खुद कोर्ट कोर्ट रूम से चलकर लोकअप में आई और वहीं पर सुनवाई हुई ..कोर्ट ने दो कैदियों की हत्या करने वाले इन सातो आरोपियों को नौ सितम्बर तक ज्युडिशियल कसटीडी में भेज दिया है ..
वी ओ 1
ये शव है नीतू दाबोदिया गेंग के कुख्यात अपराधी प्रदीप और पारस @गोल्डी के ।  इन्हें पुलिस वैन में रोहिणी कोर्ट से तिहाड़ जेल ले जाया जा रहा था । एक ही वैन में नौ कैदी थी । जिनमे दो अलग अलग गुटो के थे । नीरज बवानीया भी इसी वैन में था दोनों गुटो में झगड़ा हुआ  ।  पुलिस वैन में दोनों को सिर पर कूद कूदकर बेरहमी से मारा गया है । पुलिस की इस वैन में जो नौ कैदी थे सभी हत्या के मामलों में बंद थे ... कई राज्यों में इनका आतंक है और जेल से ही ये खूखार लोग अपनी गेंग चला रहे है और अवैध वसूली जैसे काम कर रहे है .. कैदियों की इस वैन में कैदियों के कैबिन के आगे पीछे हथियारों के साथ पुलिस के जवान थे .. पर किसी ने कोई फायरिंग भी नही की न ही बेहोशी का स्प्रे किया .. नीतू दाबोदिया गेंग के दोनों कैदी प्रदीप और पारस पुलिस से छुडवाने की भीख मांगते रहे पर नीरज बवानिया और उसके छे दुसरे कैदी साथियों ने गला कपड़े दबाकर और सिर में चोट मारकर बेरहमी से इन कैदियों को मार डाला ..पुलिस का कहना है की पूरी वारदात की साजिश तीन महीने पहले इस ग्रुप ने रची थी ... मेन शिकार पारस था ..नीतू दाबोदिया के बाद पारस ही इस गेंग को चला रहा था .. उसकी अगुवाई में नीरज बवानिया गेंग के पंडित की हत्या की गई थी जिसका बदला लेने के लिए नीरज बवानिया और उसके साथियों ने इस वारदात को अंजाम दिया जिसमे पारस के साथ प्रदीप भी मारा गया ..
बाईट - विक्रमजीत सिंह DCP बाहरी दिल्ली ..


वी ओ 2
रोहिणी कोर्ट में पुलिस जबरदस्त बन्दोबस्त में आरोपियों को रोहिणी  कोर्ट की लोकअप में लाइ .. इन सात में खुद नीरज बवानिया भी शामिल था .दुसरे गिरोह से हमले की आशंका देखते हुए इन सातो को कोर्ट रूम में नही ले जाया गया बल्कि पुलिस ने जज साहब को लोकअप रूम में सुनवाई के लिए अर्जी लगाई ... जज साहब ने पहले तो पुलिस की अर्जी खारिज की लेकिन दूसरी बार सुरक्षा के लिहाज से अनुरोध की ये अर्जी कोर्ट ने स्वीकार कर ली और खुद कोर्ट चलकर लोकअप रूम में आई और वही सुनवाई हुई ... रामबीर शौक़ीन गेंग की तरफ के वकील ने जेल में सुरक्षा मांगी ताकि इनपर कोई हमला न हो जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया .. और नौ सितम्बर तक सातो आरोपियों को ज्युडिशियल कसटीडी भेज दिया
 बाईट - संदीप कुमार ( वकील नीरज बवानिया )
वी ओ 3
अब सवाल कई खड़े होते है की उस वक्त वैन में दूसरे पुलिसकर्मियो ने क्यों नही बचाया ?
अलग अलग गैंग के लोग एक ही वैन में कैसे लाये गए वे भी सभी मर्डर केस के अपराधी  ?
एक ही वैन में लाने के पीछे और इस हमले के पीछे कोई साजिस तो नही जिसमे कोई जेल अधिकारी भी शामिल हो ?
इस तरह के कैदियों की वेंन में पुलिसकर्मियों के पास बेहोशी का स्प्रे होता है जिसे चलाकर उनके कैबिन की जाली से पुलिस उन्हें बेहोश कर सके उस स्प्रे से इनको बेहोश कर इन कैदियों की क्यों नही मर्डर से बचाया ...
एक गुट के साथ और दुसर गुट के मात्र दो कैदी एक साथ वेंन के कैबिन में बंद किये वे भी वो लोग जो एक दुसरे के जानी दुश्मन थे और इसके चलते तिहाड़ में भी इनको अलग अलग वार्ड में रखा गया है ...
मारे गये कैदियों ने पिछले दिनों दिल्ली हरियाणा बोर्डर पर चेकिंग के दौरान पुलिसकर्मी रामकिशन की हत्या की थी कहीं पुलिस अपने जवान के हत्यारों को इस अंजाम तक तो नही पहुंचाना चाहती थी ..
अब दिल्ली पुलिस अपने ही विभाग की इसमें मिलीभगत के लिहाज से जांच कर रही है पर घटना से साफ़ है की अपराध की दुनिया की उम्र लम्बी नही यदि वो कानून से कुछ वक्त बच भी गये तो बाहर की दुनिया से भी इनका बचना आसान नही होता ...
अनिल अत्री दिल्ली


रविवार, 16 अगस्त 2015

बादली में बने नए मेट्रो स्टेशन के नामकरण को लेकर विवाद ..

बादली में बने नए मेट्रो स्टेशन के नामकरण को लेकर विवाद .. इस स्टेशन का नाम दो बार नाम हो चुका है चेंज .. आज बादली में बीजेपी के कार्यर्क्ताओ ने सडक जाम कर प्रोटेस्ट किया और अरविन्द केजरीवाल का पुतला फूंका ..  बादली के पा

स बन रहे मेट्रो स्टेशन का नाम हैदरपुर मेट्रो स्टेशन करने का विरोध कर रहे है .. इनकी मांग है की जिस जमीन में मेट्रो स्टेशन बन रहा है वो जमीन बादली गाँव की है और इस स्टेशन का नाम बादली मोड़ मेट्रो स्टेशन किया जाए ..
ये है दिल्ली के जहागीरपूरी से आगे बढाया गया मेट्रो स्टेशन .. इस लाइन पर ट्रेल पर मेट्रो का चलन चल रहा है जबकि पब्लिक के लिए शुरू करने से पहले थोड़े और ट्रेल की जरूरत है ..पर बादली के मुकरबा चौक के पास बने इस स्टेशन का नाम 2012 में बादली मोड़ रखा गया  इसके बाद अब इसका नाम हैदरपुर मेट्रो स्टेशन कर दिया गया . अब नामकरण में ट्रेल शुरू होने के कारण काफी महेंगा भी है और अब लोगो ने इसका विरोध करना भी शुरू कर दिया है .. बादली विधानसभा की बीजेपी इकाई ने आज आउटर रिंग रोड जाम किया .. ये लोग अरविन्द केजरीवाल का पुतला फूंक रहे है इनकी मांग है मेट्रो स्टेशन का नाम हैदरपुर क्यों किया जिसे चेंज करने में लाखो रूपये खर्च हुए ..जिसमे सोफ्टवेयर चेंज करने पड़े .. अनाउंसमेंट सिस्टम चेंज करना पड़ा .. बादली के इन लोगो का कहना है की जिस जमीन पर मेट्रो स्टेशन बना है वो बादली के खसरे से एक्वायर की गई है और इसका नाम बादली मोड़ रखा जाए ..इस बात को लेकर नारेबाजी जारी .. ( नारेबाजी विसुअल यूज करें ..)
बाईट - राजेश यादव बीजेपी कार्यकर्ता ..
बाईट - अतुल शर्मा ( स्थानीय निवासी )
ऐसा नही प्रोटेस्ट में बीजेपी के ही लोग हो इनके साथ बादली गाँव के स्थानीय लोग भी थे इनको अपने गाँव के नाम पर मेट्रो स्टेशन का नाम करवाने की चाहत है .. यहा मेट्रो स्टेशन के एक तरफ बादली तो दूसरी तरफ हैदरपुर  गाँव है .. आउटर रिंग रोड की सडक के पार बादली गाँव तो जिस तरफ मेट्रो स्टेशन बना है उसी तरफ हैदरपुर गाँव है .. पर बादली के लोगो का कहना है जिस जमीन में मेट्रो स्टेशन बना है वो बादली गाँव की है इसलिए बादली मोड़ ही पुराना नाम रहना चाहिए हैदरपुर जो किया गया उसे दुबारा बादली मोड़ किया जाए .. फिलहाल नामकरण को लेकर ये विरोध जारी है लेकिन इतना भी निश्चित है यदि नाम दोबारा बादली मोड़ किया गया तो तब हैदरपुर के लोग विरोध कर सकते है ......................
..........
अनिल अत्री दिल्ली .......................

गुरुवार, 13 अगस्त 2015

एक बार फिर किसानो के साथ धोखा हुआ वो भी देश की राजधानी दिल्ली में ...

एक बार फिर किसानो के साथ धोखा हुआ वो भी देश की राजधानी दिल्ली में ....
एंकर - एक बार फिर किसानो के साथ धोखा हुआ वो भी देश की राजधानी दिल्ली में .... दिल्ली में एग्रीकल्चर लेंड के सर्कल रेट दिल्ली सरका


र ने करीब तीन गुना तक बढाकर नोटिफिकेशन तक जारी कर दिया .. जमींनदार काफी खुश नजर आये पर अब LG साहब ने इस नोटिफिकेशन पर रोक लगा दी जिससे फिर मामला खटाई में पड़ गया .. अब किसान मायुश और कहना है हर बार किसान ठगा जाता है ..किसानो का कहना है यदि केजरीवाल सरकार दिल से किसानो का भला चाहती तो प्रोपर चैनल से सर्कल रेट की अधिसूचना लाती और ये दिक्कत ही नही आती ..बिना प्रोपर सिस्टम के LG के हस्ताक्षर बिना अधिसूचना लाकर किसानो को खुश किया और बाद में LG साहब ने इसे रिजेक्ट कर दिया .. किसानो ने इस सबको राजनीति कहा ..साथ ही बुराड़ी जैसे एरिया के खेतो में अभी तक भी किसी किसान को मुआवजा न मिलने से किसान दिल्ली सरकार से  नाराज है ..
वी ओ 1
राजधानी दिल्ली में किसान अपने खेत बेचने में लगे है .. खेतो की जगह पर कंक्रीट की कालोनिया बन रही है .. किसान सरकार से डरकर अपनी जमींन बेच रहे है .. पता नही कब सरकार जमीन को कोडियो के भाव में हथिया ले .. जो एक निजी बाजार में छे से सात करोड़ की बिक रही है सरकार उसे पता नही कब मात्र पचहतर लाख में अधिग्रहण कर ले .. इस डर से किसानो ने काफी जमीन बेच दी और खेती की जमीन कम होती गई जिससे प्रदुषण भी बढ़ा और हवा जहरीली हो गई .. बची जमीन के लिए किसान कई सालो से लड़ाई भी लड़ रहे है ..अब दिल्ली सरकार ने सर्कल रेट 75 लाख से बचाकर साढ़े तीन करोड़  तक किये .. जिसमे दो जॉन बनाकर अलग अलग रेट किये.. अधिकतम रेट साढ़े तीन करोड़  किया जिसमे सोलिटीयम अलग होगा ... दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने बिना LG के पास ये फ़ाइल भेजे नये सर्कल रेट की अधिसूचना जारी कर दी जो रजिस्ट्रार कार्यालयों तक भी पहुंच गई थी .. पर LG साहब ने अब इस अधिसूचना को रिजेक्ट कर दिया और रेट पुराने या नये एक संशय बन गया ... शुरू में अधिसूचना आने पर किसान खुश हुए अब फिर मायुश हो गये ... इसपर किसानो का कहना है ये सब राजनीति का खेल है यदि सही मायने में किसानो का भला करना था तो केजरीवाल सिस्टम से वाया LG ये अधिसूचना लाती और किसानो का भला होता .. बिना LG के पास फ़ाइल भेजे अधीसुचना जारी कर दी जिसे LG साहब ने रिजेक्ट कर दी . किसान वहीं आ गये जहा पहले थे ....
बाईट - रवीन्द्र त्यागी किसान बुराड़ी ..
वी ओ 2
सर्कल रेट ही नही किसान मुआवजे को लेकर भी दिल्ली सरकार से नाराज है .. दिल्ली सरकार ने देश में सबसे ज्यादा मुआवजा देने की घोशनाए और प्रचार किये .. और जल्द तुरंत मुआवजे की बात कहीं पर किसानो को अभी तक मुआवजा नही मिला .... जितने का मुआवजा मिलना था उससे ज्यादा राशि तो तो लगता है इसके प्रचार में लगा दी ..
बाईट - प्रदीप त्यागी किसान बुराड़ी ..
वी ओ 3
अब किसानो का एक बार फिर सपना टूट गया जहा थे वहीं आ गये .. अब केजरीवाल सरकार ने विधायको को जिम्मेदारी दी है की वे किसानो के बीच जाकर ये बात बताये की दिल्ली सरकार ने सर्कल रेट बढाये थे पर LG साहब ने रोक लगा दी इससे साफ़ है इस मुद्दे में कहीं न कहीं वोट बैंक बढाने की राजनीति छिपी है ..
...
अनिल अत्री दिल्ली .................

रविवार, 26 अप्रैल 2015

बाहरी दिल्ली के नरेला में किसानो के मुआवजे और FCI द्वारा अनाज की वक्त पर खरीद न करने के विरोध में किसानो और युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओ ने प्रदर्शन किया

video
बाहरी दिल्ली के नरेला में किसानो के मुआवजे और FCI द्वारा अनाज की वक्त पर खरीद न करने के विरोध में किसानो और युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओ ने प्रदर्शन किया और अनाज  मण्डी के आगे मेन रोड पर दिल्ली के सीएम और देश के प्रधान्ममंत्री के पुतले फूंके । इस मौके पर दिल्ली युथ कांग्रेस के अध्यक्ष ने भाग लिया ।

video

वी ओ 1
ये लोग है दिल्ली युथ कांग्रेस के । साथ में दिल्ली प्रदेश युथ कांग्रेस के अध्यक्ष अमित मलिक भी शामिल है । इनका प्रोटेस्ट किसानो की समस्या को लेकर है । नरेला से कांग्रेस के पूर्व विधायक चरण सिंह कण्डेरा विधानसभा के पूर्व प्रत्यासी परवीन कुमार शामिल है । इनका कहना है दिल्ली सरकार मुआवजे के नाम पर किसानो से छल कर रही है । अभी तक कोई गिरवदारी या सर्वे नही हुआ केवल झूठे आस्वासन दिए जा रहे है । काफी  कुछ मौसम ने खत्म किया उसमे जो बचा उसको मण्डी में FCI खरीद नही पा रही है । किसानो बचा अनाज मण्डी में खराब हो रहा है ।
बाइट अमित मलिक अध्यक्ष दिल्ली युथ कांग्रेस ।
बाइट प्रवीण कुमार कांग्रेस पूर्व विधानसभा प्रत्यासी नरेला विधानसभा ।
video video

वी ओ 2
युथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओ और किसानो ने केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार दोनों के खिलाफ नारेबाजी की और अरविन्द केजरीवाल और प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी के पुतले जलाये और दस दिन में यदि किसानो की फसल नही खरीदी गई मुआवजा नही मिला तो बड़े आंदोलन की चेतावनी भी दी ।

अनिल अत्री दिल्ली ।

गुरुवार, 5 मार्च 2015

देश की राजधानी में हुआ लावारिश शवो का अपमान ..

एंकर - देश की राजधानी में हुआ लावारिश शवो का अपमान .. लावारिश शवो की पहचान में दिल्ली पुलिस कितनी चुस्त है इसकी बानगी आज देखने को मिली .. आज नार्थ दिल्ली के सब्जी मण्डी इलाके में दिल्ली सरकार की मोर्चरी से करीब पचास लावारिस डेड बॉडी मोर्चरी प्रशासन ने सड़क पर फेंकी .. बोडी महीनों पुरानी थी जिन्हें दिल्ली पुलिस संस्कार के लिए नहीं ले जा रही थी .. महीनों बाद भी पुलिस ने इनको उठाकर संस्कार नहीं किया तो आज दोपहर बाद मोर्चरी प्रशासन ने इन डेड बोडी  को बाहर सड़क पर रख दिया .कोई बॉडी दो महीने तो कोई एक महीने पुरानी थी जिन्हें पुलिस ने अभी तक पोस्ट मार्टम के बाद लिया नहीं . आसपास के पूरे इलाके में बदबू फैल गई .. आसपास के लोग परेशान हो गये और जब मंजर देखा तो स्थानीय लोगो ने सडक जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया ..
बाईट - रामप्रकाश स्थानीय निवासी ..( डॉ की कमी से रखी है त्यौहार के दिन बाहर रखी ..कम से कम डेढ़ डेढ़ सौ बोडी है .. अभी भी बोडिया बहुत है .
बाईट - स्थानीय महिला  ( डेढ़ सौ बोडी  थी .. बीमारिया फैल रही है ..बदबू थी )
वी ओ फाइनल - जब सड़क जमा हो गई .. लोग विरोध करने लगे .. और शव सड़क पर थे तब जाकर दिल्ली पुलिस जागी .. इस मोर्चरी में उत्तरी जिले के पुलिस स्टेशनों के शव पोस्ट मार्टम के लिए लाये जाते है .. जिनके परिजन होते है वे तो जैसे तैसे पुलिस से पोस्टमार्टम करवा कर शव ले लेते है पर जिस बॉडी की शिनाकह्त नहीं होती उनको मोर्चरी में रखकर पुलिस भूल जाती है .. मोर्चरी प्रशासन ने पुलिस से कई बार इन शवो को ले जाने की बात कही पर पुलिस ने संजीदगी से काम नहीं लिया .. आज जब ये हंगामा हुआ शव सडको पर फेंके गये तब जाकर पुलिस जागी .. अब जरूरत है दिल्ली पुलिस के आला अधिकारी उन पुलिस अधिकारियों पर कारवाई करे जिनकी ढिलाई की वजह से इन शवो की संभाल नहीं हुई .. फिलहाल दिल्ली पुलिस ने आनान फानन में शवो को एम्बुलेंस का इन्तजार न करके पुलिस की गाडियों में भरकर दुसरे अस्पतालों की मोर्चरियो में पहुंचा दिया .. इससे साफ हो गया की दिल्ली पुलिस में स्वेदना नहीं बची है .........
..
अनिल अत्री दिल्ली .......


आर्य समाज ने एकता रैली निकाली . एकता रैली में आठ राज्यों से आये बच्चो ने भाग लिया

नार्थ-वेस्ट दिल्ली के रानी बाग़ इलाके में आर्य समाज ने एकता रैली निकाली . एकता रैली में आठ राज्यों से आये बच्चो ने भाग लिया .. शोभा यात्रा में बच्चो ने ने अपने करतब दिखाए ... बाजारों से गुजरती झाँकियो में बच्चो के करतब देखकर सब हैरान थे .. आर्य समाज ने इस रैली को एकता रैली नाम दिया और इसमें सभी दलों के नेताओ को बुलाया सभी पार्टियों को साथ लेकर चले ...


वी ओ 1 ये देखिये छोटे छोटे बच्चो के करतब .... छोटो छोटी लडकिया भी कैसे लाठीबाजी और दुसरे करतब कर रही है .... छोटे छोटे लडके भी लाठी बाजी और दूसरे करतब करते चल रहे है .( बच्चो के करतब करते हुए विसुअल है ) .. . ये झांकी रैली करीब पांच किलोमीटर लम्बी चली जो बाजारों और सडको से होकर गई .. बीच बीच में लोगो ने झांकीयो और बच्चो का पुष्पवर्षा से स्वागत किया .. पूरी दिल्ली से आर्य प्रतिनिधियों ने भाग लिया है ... और इस शोभा यात्रा को एकता रैली नाम दिया है और इसमें देश के पूर्वोतर के बच्चे भी आये है और आठ राज्यों के गुरुकुलो में पढाई करने वाले बच्चो ने भाग लिया है ..
बाईट - जोगिन्द्र खट्टर ( जनरल सैक्रेटरी नार्थ-वेस्ट दिल्ली आर्य )
वी ओ 2
इसमें लोगो को स्वामी दयानन्द सरस्वती के सिधान्तो से लोगो को अवगत कराया ... और उद्देश्य भी आपसी भाईचारा और स्वामी दयानंद के सिधान्तो को आगे बढाना है ... कुल मिलाकर बच्चो के करतबों बहादुर बनने की प्रेरणा इस रैली के माध्यम से दी ...
...
..
अनिल अत्री दिल्ली .............

फेडरेशन ऑफ़ नरेला सबसिटी ने आयोजित किया होली मिलन समारोह ...

होली के  त्यौहार पर जगह जगह होली मिलन समारोह आयोजित हो रहे है .. कहि नेता ..कही कर्मचारी ..तो कही दुसरे संगठन होली मिल्न समारोह आयोजित  कर रहे है ..पानी और पिचकारी की जगह होली की पार्टियों ने ली है .. अब होली फूलो ..संगीत और नाच गाने के साथ मनाई जा रही है .. इस बार भी होली से दस दिन पहले जगह जगह होली मिलन के कार्य्रकम शुरू हो गये .ऐसा ही होली मिलन आयोजित हुआ सबसिटी नरेला में ..
वी ओ 1
. ये है फ़ेडरेशन ऑफ़ नरेला सबसिटी के द्वारा मनाया जा रहा होली मिलन का कार्यक्रम .. .. फेडरेशन में कई NGO शामिल है  और आज के इस होली मिलन में  एरिया के पार्षदों , विधायको , डॉक्टर्स , पुलिसकर्मियों , खिलाडियों सभी ने  साथ साथ होली मनाई .. इसमें फूलो की बौछार से  होली मनाई .. बच्चो ने गीत गाकर होली मिलन किया .. इसके माध्यम से एरिया के अलग अलग विभागों के लोग आपस में मिले ..सभी की आपसी मुलाक़ात को ये सबसे बड़ी होली मानते है ..
बाईट - राज सिंह खत्री ( वालीवाल कोच )
बाईट - दीपिका रे ( स्थानीय निवासी )
वी ओ 2
समाज के लिए भी कुछ अच्छा हो इसके लिए ब्लड डोनेशन कैम्प का भी आयोजन किया . जहा काफी लोगो ने होली मिलन के इस कार्यक्रम में ब्लड डोनेट किया ... 200 यूनिट ब्लड यहा होली मिलन डोनेट हुआ .. पीतमपुरा ब्लड बैंक के साथ साथ नरेला के सरकारी अस्पताल सत्यवादी राजा हरिश्चन्द्र अस्पताल के डोक्टरो की टीम ने पूरा सहयोग दिया साथ में होली मिलन भाग लिया ..
जोदिन्द्र दहिया  ( अध्यक्ष फ़ेडरेशन ऑफ़ नरेला सबसिटी )
वी ओ 3
कुल मिलाकर लोग जमकर झूमे एक दुसरे से मिले ..एक दुसरे को सम्मान दिया ..नरेला ही नहीं दिल्ली के अलग अलग कौने में इस तरह के होली मिलन के प्रोग्रामो में लोग व्यस्त है ...

अनिल अत्री दिल्ली .......

Anil Attri <anilattri.reporter@gmail.com>

Mar 3 (2 days ago)


to amit, bundwal, Deepak, Harshit, jaswant, p7news, prabhakarrana01, aajtak
--

अनिल अत्री  दिल्ली ...

09211514000

My Blog ..  visit on : http://anilattrihindidelhi.blogspot.com
13.54 GB (90%) of 15 GB used
©2015 Google - Terms - Privacy
Last account activity: 36 minutes ago
Details


.फोर्चुनर कार से आये चोर वरना कार चुरा ले गये .. सब CCTV में कैद .

एंकर .... फार्चुनर कार से चोर आता है औऱ थाने के ठीक बगल से वर्ना कार चुराकर फऱार हो जाता है वो भी उसवक्त जब घर के मालकिन अपने बच्चो को स्कूल के लिए तैयार कर रही होती है और बगल से पीसीआर वैन गुजर रही होती  है ..कार जब नकली चाबी से स्टार्ट नही होती तो चोर अपने फार्चुनर कार से धक्का लगाकर कार को  ले जाते है । और महज 10 मिनट बाद जब  पुलिस को कार चोरी की सुचना मिलती है उसके बाद भी वो  हाथ पर हाथ धरी रह जाती है  जबकी ये सारा मामला एक सीसीटीवी कैमरे कैद भी हो जाता है  । मामला दिल्ली के प्रसाद नगर थाने इलाके की है ।

वीओ  1  इस सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को गौर से देखिये ..दिन  3 मार्च मंगलवार सुबह के 6 बजकर 23 मिनट ...जब प्रसाद नगर के बी 1 के बाहर एक फारचुनर कार रूकती है उससे एक चोर निकलता है और वो टार्च के सहारे नकली चाबी से एक वर्ना कार का दरवाजा खोलने की  कोशिश करता है कुछ ही पल में एक पीसीआर वैन आते देख चोर अपने फारचुनर कार में सवार होकर वहाँ से निकल जाता है फिर दो मिनट बाद वापस आकर चोर कार का दरवाजा खोलता है मगर कार नकली चाबी से स्टार्ट नही होती वो  6 बजकर 35 तक कोशिश करता है फिर कार से फारचुनर कार से दो औऱ शख्स निकल कर  कार को धक्का देते है और अपनी फारचुनर कार की मदद से पीछे से धक्का देकर वो वर्ना कार को ले जाते है ।

नैट – सीसीटीवी फुटेज में 6 बजकर 23 मिनट पर एक फारचुनर कार से चोर आते है वर्ना कार का शिशा तोर दरवाजा खोलते हुए पीसीआर वैन आते देख चोर 6.25 में मौके से चले जाते है फिर दो मिनट बाद चोर आकर कार को स्टार्ट करने में लगते है कार स्टार्ट न होने पर 6 बजकर 36 मिनट पर धक्का लगाकर ले जाते हुए शाट्स )

बाईट   कोमल चड्डा , कार मालकिन ( मै सुबह साढे छ बजे उठकर बच्चो को स्कूल के लिए तैयारी करने में जुटी थी तभी घर के बाहर कुछ लोग आते है मुझे लगा कि कार की सफाई करनेवाला आया होगा )

वीओ  2  पीड़ीत कार वर्ना मालकिन कोमल चड्डा के अनुसार जब उनकी मदर इन लाँ  लगभग 6 बजकर 45 मिनट पर घर के बाहर निकलती है तो उनकी कार नही थी और शीशे के टुकड़े पड़े थे उसके बाद वो आस-पास देखा तो कार नजर नही आई जिसके तुरंत बाद इसकी सुचना पुलिस को दी गई लेकिन पुलिस मौके पर पहुँच सिर्फ खाना पुर्ती में लगी रही ...पीड़ीत का आरोप है कि अगर पुलिस चाहती तो उस वक्त कार को  ट्रेस कर सकती थी लेकिन पुलिस ने ऐसा नही किया ।

बाईट   AAAAAA

वीओ  3  पीड़ीत परिवार का आरोप है कि जब थाने के ठीक बगल से चोर कार चोरी के बारदात को आसानी से अंजाम दे सकते है वो भी सुबह के वक्त , तो उनकी सुरक्षा तो भगवान भरोसे है । दिल्ली पुलिस के लिए इससे शर्मनाक घटना और क्या हो सकती है ।
अनिल अत्री दिल्ली ...
, कार मालकिन , ( सीसीटीवी फुटेज के अनुसार जब कार चोरी हुई है उसके ठीक 5 मिनट बाद हमने पुलिस को सुचना दे दी थी अगर समय रहते पुलिस उस वक्त चाहती तो कार को तुरंत ट्रेस कर सकती थी )

होली पर रंगो से पहले सावधानी और मुह नाक आँख में रंग आदि जाए तो .....


एंकर - होली पर रंगो से होली खेलने का सिलसिला शुरू हो चूका है ..होली पर रंगों से खेलते वक्त कुछ सावधानियो की भी जरूरत है .. शराब पीकर होली न खेले .. केमिकल मिलावट के रंगों से होली न खेले साथ ही यदि रंग या गुलाल आँख मुह या शरीर के किसी भी हिस्से में चला जाए तो तुरंत उपचार जरुर करे ... साथ ही बडो की जिम्मेदारी की छोटो के होली खेलते वक्त रखे ख्याल ...
वी ओ 1
ये देखिये रंगों की दुकाने सज गई है .. दुकानों पर रंगो के ढेर लगे है ... और लोग खरीद भी रहे है .. लोग एक दुसरे को रंग लगाकर .. मिठाई खाकर ... गीत गाकर होली मनायेगे .. इस सब में हमे सावधानी की भी जरूरत है ताकि हेल्थ से किसी तरह का खिलवाड़ न हो .. आजकल चाहे मिठाई हो या रंग गुलाल हर दुकानदार अपने मुनाफे के लिए मिलावट का सामान बेच रहा है .. यदि केमिकल की मिलावट के रंग हमारी बोडी से टच होकर सकींन के माध्यम से शरीर में जायेगे तो उसके साइड इफेक्ट होने निश्चित है .. इसलिए किसी केमिकल रंग गुलाल का प्रयोग न करे .. बल्कि जानकारों की राय तो यहा तक है की संगीत के साथ फूलो की होली खेले ..गुलाल और रंगो से बचे .. और बढिया ब्रांड का ही रंग या गुलाल खरीदे लोकल गुलाल रंग हानिकारक होते है ..
बाईट - डॉ मनोज कुमार ( CMO सत्यवादी राजा हरिशचंदर अस्पताल )
वी ओ 2
डॉकटर्स का सुझाव है की मुह व आँख नाक आदि में गुलाला व रंग बिलकुल न जाने दे .. सावधानी बरते .. यदि चला भी जाता है तो तुरंत रनिंग वाटर से घोये और तुरंत डॉ के पास ले जाए ताकि कोई इन्फेकसन न हो पाए ..और रंग खेलने से पहले तेल जरुर लगाये जिसे रंग सीधे त्वचा से सम्पर्क में न आये बीच में तेल की परत आ जाए और त्वचा सेफ रह जाए ..
बाईट - डॉ मनोज कुमार ( CMO सत्यवादी राजा हरिशचंदर अस्पताल )
वी ओ 3
साथ ही सरकारी डॉक्टर्स का कहना है की होली पर मरीजो की संख्या कई गुना बढ़ जाती है .. और अधिकतर मरीज ऐसे आते है जो शराब या किसी दुसरे नशे में खुद को नुकशान पहुंचाते है .. और इस दिन एक्सीडेंट भी ज्यादा होते है ..इसलिए दवाइयों की संख्या इस अवसर पर बढ़ा दी जाती है .. ताकि मरीजो की संख्या बढने पर दवाइयों की कमी न पड़े .और इलाज में देरी न हो ..
बाईट - डॉ मनोज कुमार ( CMO सत्यवादी राजा हरिशचंदर अस्पताल )
वी ओ 3
अब जरूरत है लोग खुद भी सावधाने बरते ख़ुशी मनानें के साथ साथ दुसरो की सेहत से भी खिलवाड़ न करे ..क्योकि होली खुशियों का त्यौहार है .........
..
अनिल अत्री दिल्ली ....

होली पर दिल्ली में निगम और दिल्ली सरकार के अस्पताल अलर्ट पर..




एंकर - होली पर दिल्ली में  निगम और दिल्ली सरकार के अस्पताल अलर्ट पर .. उत्तरी दिल्ली नगर निगम के पांच बड़े अस्पताल और पांच पोली क्लिनिक होंगे अलर्ट पर .. होली के दिन दिल्ली सरकार के अस्पतालों में दश गुना बढ़ेगी दवाइया .. डॉकटर्स का कहना होली के दिन आते है दस गुना ज्यादा मरीज .. साथ में सिक्योर्टी भी बढाई जायेगी क्योकि एक मरीज के साथ आते है पांच से दश लोग और सरकारी अस्पतालों पर जमा हो जाते है हजारो तीमारदार .. दिल्ली सरकार और दिल्ली नगर निगम पुख्ता इंतजाम करने में जुटे .. ..
वी ओ 1
होली के दिन होली गुलाल और खेल के दौरान कई लोग घायल हो जाते है .. आँख नाक कान में रंग गुलाल या पानी चला जाता है .. कई लोग शराब या किसी दुसरे नशे में होली खलेते है तो वे खुद जख्मी हो जाते है और सडक पर गाडी चलाकर दुसरो को भी दुर्घटना का शिकार बना देते है .. यदि डॉकटर्स की माने तो इस दिन दुसरे दिनों की तुलना में दश गुना मरीज ज्यादा आते है .. और इसलिए अस्पतालों में होली के दिन दश गुना दवाई का प्रबंध पहले से ज्यादा होगा .. साथ भी इस दिन सिक्योर्टी की जरूरत भी ज्यादा है क्योकि लोग नशे में भी आते है और एक मरीज के साथ पांच से दस तीमारदार भी आते है और इस तरह अस्पताल में सैकड़ो मरीज होते है और हजारो तीमारदार जमा अहो जाते है और डॉ अच्छी तरह काम नहीं कर पाते .. लोगो से सहयोग की अपील डॉकटर्स ने की है साथ ही होली खेलने में सेफ्टी बरतने की अपील की है ..
बाईट डॉ मनोज कुमार ( CMO सत्यावादी राजा हरीशचनदर अस्पताल नरेला )
वी ओ 2
दिल्ली सरकार ही नहीं दिल्ली नगर निगम ने भी इस दिन के लिए पुख्ता प्रबंध किये है .. एम्बुलेंसो को अलर्ट पर रखा गया है .. उत्तरी दिल्ली नगर निगम में निगम के पांच बड़े अस्पताल और पांच पोली क्लिनिक है सभी के डॉ व एम्बुलेंस अलर्ट पर रहेगे 24 घंटे ....
बाईट - मोहन भारद्वाज ( चेयरमेन स्टेंडिंग कमेटी उत्तरी दिल्ली  नगर निगम )
वी ओ 3
प्रशासन ने तो अपने पुख्ता प्रबंध कर लिए है अब लोगो का भी फर्ज बनता की वे सावधानी से होली खेले और नशे से बचे ...खुद के साथ साथ दुसरो को भी सेफ रखते हुए होली खेले ...................
अनिल अत्री दिल्ली .........
..
 

मंगलवार, 24 फ़रवरी 2015

"आप " विधायक ऋतुराज ---" कोई भी रेम्बो आ जाये जो होगा देख लूंगा..जुए के अड्डे नहीं चलने देंगे

अनिल अत्री
दिल्ली के किराड़ी विधानसभा के मौजूदा विधायक ने आरोप लगाया की किराड़ी में पूर्व विधायक और पुलिस की मदद से  30 जुए के अड्डे चल रहे है --पुलिस के आला अधिकारीयों को लिखित शिकायत देने के बावजूद भी जब ये बंद नहीं हुए तो विधायक साहब खुद ही कैमरा लेकर अड्डे पर पहुंचे गए --वहां जुआरी तो नहीं पर जुए के सबूत जरूर मिल गए --इस बात को लेकर किराड़ी में देर रात तक जमकर हंगामा हुआ --"आप " विधायक ऋतू राज भरी भीड़ के सामने पुलिस को लताड़ा और कहा की वे इलाके में जुए के अड्डे नहीं चलने देंगे चाहे कोई भी रेम्बो आ जाये ---

"आप " विधायक ऋतुराज ---" कोई भी रेम्बो आ जाये जो होगा देख लूंगा --जुआ नहीं चलने दूंगा --पुलिस को कहने के बावजूद यहाँ पुरे दिन जुआ चलता रहा --) यह तेवर है किराड़ी से "आप " के विधायक ऋतुराज के --ऋतुराज  आरोप लगा रहे है की किराड़ी में पूर्व विधायक और पुलिस की मदद से 30 जाये के अड्डे चल रहे है --पुलिस को भी इसकी शिकायत दी लेकिन पुलिस ने नहीं सूनी --आज फिर विधायक साहब को खबर मिली की किराड़ी में मोबाइल की एक फ़र्ज़ी दूकान पर दिन भी से जुआ चल रहा है --इस शिकायत के बात विधायक साहब अपने समर्थकों के साथ जुए के अड्डे पर रेड मारने पहुंचे ---यहाँ इन्हे एक छोटे से कमरे में टूटा सोफे मिला और उनकी आड़ में कुछ पर्चियां तो सट्टे की लगती है --इस बात कोई लेकर ऋतुराज और पुलिस के बीच भी बहस हुयी --आरोप लगाया की इन्हे पहले सूचना दे दी और ये पिछले दरवाजे से फरार हो गए ---विधायक ने विडिओ भी मीडिया को दी जिसमें जुए के अड्डे में तलासी के दौरान पर्चियां मिली है --यह तलाशे पुलिस की मौजूदगी में ली गयी --
बाईट ---ऋतुराज ( "आप " विधायक )
( पुराने विधायक  और पुलिस की मदद से 30 जुए के अड्डे चल रहे है --यह लत यहाँ बच्चों तक पहुंच चुकी है --पुलिस को पर्ची दिखाई है -किराड़ी में जुए अड्डे नहीं चलने देंगे )
वी-ओ-2 
इस छापामारी  से जहाँ पुलिस परेसानी में पड़ गयी वहीँ सैकड़ो लोग देर रात तक विधायक ऋतुराज झा के साथ खड़े थे --मोबाइल की फ़र्ज़ी दूकान के आड़ में सटटा चल रहा था --ऋतुराज झा ने कहा की उनके वॉलेंटियर्स स्टिंग कर रहे है जिसे पुलिस कमिशनर और डीसीपी साहब को दिया जाएगा --
बाईट ---ऋतुराज झा "आप " विधायक 
( हमारे लोग स्टिंग कर रहे है पुलिस कमिशनर से मिलेंगे --)
वी-ओ-3 
"आप " विधायक आरोप लगा रहे है की यह अड्डे पूर्व विधायक और पुलिस की मिलीभगत से काफी समय से चल रहे है --चुनाव से पहले भी वे पुलिस को लिख चुकें है --लेकिन पहले वे लाचार थे --अब सत्ता आयी है तो वे जनता के साथ खड़े है और उनसे किया वादा पूरा कर ऐसे अड्डों को ख़त्म करेंगे --

दिल्ली में आम आदमी पार्टी के एक और विधायक की पुलिस से भिड़ंत


एंकर - दिल्ली में आम आदमी पार्टी के एक और विधायक की पुलिस से भिड़ंत । रिठाला से  आम आदमी पार्टी के विधायक महेंद्र गोयल स्थानीय लोगो के धरने में गए । लोग दो बच्चे डूबने और उनके  अब तक न मिलने पर गुस्से में थे सड़क जाम कर प्रोटेस्ट कर रहे थे । जैसे की आप विधायक पहुंचे तो पुलिस से हुई कहा सुनी ..आम आदमी पार्टी के विधायक ने जैसे ही ऊँगली उठाकर पुलिस से बात की ..तो दिल्ली पुलिस के ACP ने विधायक को कैमरों के सामने ही गला पकड़कर धक्का दे दिया । लोगो का विरोध जारी है । आप विधायक का आम पार्टी के के विधायको को निशाना बनाने का आरोप । पर आम आदमी पार्टी के विधायको का इस तरह पुलिस के कामो में जाकर उलझना दिल्ली में अराजकता की स्थिति पैदा कर रहा है ..
वी ओ 1
अब हर रोज आम आदमी पार्टी का कोई न कोई विधायक पुलिस से उलझ रहा है ..दिल्ली में अराजकता का माहौल बनता जा रहा है ... और आम आदमी पार्टी उलटे पुलिस पर बदसलूकी का आरोप लगा रही है ...  पहले -- बुराड़ी , किराड़ी के बाद अब रिठाला के विधायक और उनके साथ खड़ी भीड़ ने पुलिस पर आरोप लगाया की उसने विधायक महेंद्र गोयल के साथ हाथापाई की --उनसे बदसलूकी की --नहर में डूबे दो बच्चों को ढूंढने के बजाये प्रशासन अपनी खीज विधायक  और लोगों पर उतार रहा है --मामला दो बच्चों के डूबने का है --रोहिणी के वाले शंटी और सहित नाम के दो नाबालिग बच्चे इस नहर में डूब गए बताये जा रहे है --- आज इस घटना को तीन दिन हो गए लेकिन पुलिस और संबधित विभाग ने बच्चों को तलाशने के लिए कोई गंभीर प्रयाश नहीं किये --न नाव मंगाई और न गोताखोर --लिहाज़ा आज बड़ी संख्या में लोग नहर के पास एकत्रित हुए और पुलिस प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया --इन लोगों के समर्थन में स्थानीय विधायक महेंद्र गोयल भी पहुंचे --पुलिस और "आप " विधायक के बीच हो रहे सवाल जबाब जुबानी जंग में बदल गए और विधायक महेंद्र गोयल ने पुलिस अधिकारी की तरफ ऊँगली उठाकर बात की तो पुलिस अधिकारी ACP सुकांत एस बल्लभ ने उलटे इस विधायक को पीछे धक्का दिया .. और फिर उसके बाद जो कुछ हुआ आप खुद सुनिए --
बाईट ---महेंद्र गोयल ( आप विधायक )टेक्स्ट - ( पुलिस गलत कर रही है --मेरे साथ बदसलूकी की --गिरबान पकड़ लिया महिलाओं पर लाठी चार्ज किया )
वी-ओ-2
इधर जुबानी और सियासी जंग चल रही थी तो दूसरी और ये दोनों माएं अपने लाडलों के गम भी बेहाल थी ---इन रोटी बिलखती माँ को कोई दिलासा नहीं दिला पा रहा था --इधर ये दोनों रो  रही थी इधर पुलिस और विधायक में झड़प चल रही थी -----इनका दर्द है की उनके बच्चों को नहर से ढूंढने के तो सही प्रयास नहीं किये जा रहे उलटे ग़मज़दा  परिजनों को ही पुलिस धमका रही है --
बाईट --नेता शर्मा ( नहर में गुमसुदा बच्चो की माँ ) टेक्स्ट - हमारे दो बच्चे गायब हो गये ..पानी कम नही किया बल्कि और उपर कर दिया
वी-ओ-3
पुलिस का कहना है की फायर तो दिल्ली प्रशासन लगातार  बच्चों को नहर में तलास कर रहा है --लोग इस आम रस्ते को जाम कर हंगमा कर रहे थे जिसे रोकने का प्रयास पुलिस कर रही थी --विधायक भी उनमें शामिल है --बहरहाल "आप " के एक और विधायक की  पुलिस प्रशसान  से झड़प यही साबित कर रही है की "आप " भले है सरकारी में आ गयी तो लेकिन उसके विधायक  विपक्ष जैसी भीमिका निभा रहे है --जनता की आवाज  आड़ में प्रशासन से उलझ रहे है ---
अनिल अत्री दिल्ली .


सोमवार, 23 फ़रवरी 2015

आम आदमी पार्टी के बुराड़ी से विधायक संजीव झा और मॉडल टाउन के विधायक पर कई धाराओ में मामला दर्ज

अनिल अत्री।
नार्थ दिल्ली के बुराड़ी थाने  पर हुआ जमकर हंगामा ..आम आदमी पार्टी के बुराड़ी से विधायक संजीव झा और मॉडल टाउन के विधायक पर कई धाराओ में मामला दर्ज .. भीड़ भडकने पर पुलिस ने किया जमकर लाठीचार्ज .. कई पुलिस कर्मियों तो कई प्रदर्शनकारियो को भी आई चोट ..आम
आदमी पार्टी के कार्यर्क्ताओ में कई के सिर फूटे ... हंगामें की शुरुआत उस वक्त हुई जब के एक मामले में कार्यकर्ताओ के थाणे में बुलाने पर आये आम आदमी पार्टी  के बुराड़ी विधायक थाने में गाडी लेकर घुसने लगे तो संतरी ने विरोध किया तो विधायक साहब अंदर घुसे तो दोनों में कहासुनी हो गई और तुरंत ही बुराड़ी थाणे में आम आदमी पार्टी के एक हजार से ज्यादा कार्यकर्ता जमा हो गये ..और जब देर रात तक भी लोग नहीं हटे तो पुलिस ने जमकर लाठिचार्ज किया .. पब्लिक ने भी काफी पत्थरबाजी की ...पुलिस ने हंगामे में मीडिया कर्मियों को भी बनाया निशाना .. चैनलों की माइक आईडी दिखाने के बाद भी पुलिस ने मीडिया कर्मियों पर भी डंडे बरसाए और आईडी भी तोड़ डाली .. पुलिस अधिकारियों ने दिया कारवाई का आश्वासन ...
वी ओ 1
अँधेरे में ये लाठिया भान्ज रही है दिल्ली पुलिस और पब्लिक भी जमकर पत्थर बरसा रही है .. पुलिस भी जो लोग हाथ आ रहे उन्हें जमकर पिटाई कर रहे है .. यहा तक की पुलिस ने मीडियाकर्मियों को भी नहीं बख्शा .. मीडियाकर्मियों पर भी पुलिस लाठिया भांजी और दो चैनलों को माइक आईडी भी तोड़ डाली ..ये देखिये ये दिल्ली पुलिस का जवान कैसे माइक आईडी को और मीडियाकर्मियों को लठ माँ रहा है .. .. जब पुलिस का लाठिचार्ज  हुआ तो लोगो ने भी थाणे पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिए ..ये सब रात करीब ग्यारह बजे भडका .. मामले की शुरुआत बुराड़ी इलाके के प्रधान इन्क्लेव कालोनी में एक लडके के किडनेप की कोशिश को लेकर हुई .. स्थानीय लोगो ने एक किडनेपर को पकडकर थाणे ले आये और लोगो का आरोप है पुलिस ने शुरुआत में मामला दर्ज न करके आनाकानी करी तो कई आम आदमी पार्टी के लोग जमा हो गये .... और स्थानीय विधायक संजीव झा भी मौके पर आये और जब वे अंदर आने लगे तो आम आदमी पार्टी  के बुराड़ी विधायक थाने में गाडी लेकर घुसने लगे तो संतरी ने विरोध किया तो विधायक साहब अंदर घुसे तो दोनों में कहासुनी हो गई और तुरंत ही बुराड़ी थाणे में आम आदमी पार्टी के एक हजार से ज्यादा कार्यकर्ता जमा हो गये.. और देर रात तक हंगामा चलता रहा .. और आम आदमी पार्टी के लोग संतरी के खिलाफ मामला दर्ज और निलबंन की मांग करते रहे .. जब करीब एक हजार से ज्यादा लोग नहीं थाणे के अंदर से नहीं हटे तो भारी पुलिस बल बुलाया गया और पुलिस ने ये लाठिया भाजनी शुरू कर दी .. और इस दौरान मॉडल टाउन से आम आदमी पार्टी के विधायक अखिलेश त्रिपाठी भी दुसरे आम आदमी पार्टी के विधायक के समर्थन में आये तो इनके साथ भी जमकर मारपीट हुई .. और आम आदमी पार्टी के विधायक का कहना है की इन्होने शिकायत की है और पूरे मामले की जांच की मांग करेगे . पूरे हंगामे के कई महिलायो को भी चोटे आई ..
बाईट - संजीव झा ( आप विधायक बुराड़ी ) टेक्स्ट - हमारे साथ बदतमीजी की .. हम उसके खिलाफ शिकायत की इस पर FIR होनी चाहिए .. हमने उसके सेस्पेंसंन की मांग की .. महिलाओ को लेटा लेटाकर  मारा गया
बाईट - अखिलेश त्रिपाठी ( आप विधायक मॉडल टाउन ) टेक्स्ट - हम देख रहे थे क्या हो रहा है आठ दस पुलिस वाले एक को मार रहे थे .. मेंने पूछा क्या हो रहा है ..
बाईट - घायल महिला ..टेक्स्ट - अंदर बात हो रही .. फिर लाठी चार्ज शुरू कर दिया .. सभी को चोट  आई है .
वी ओ 2
मामला बढ़ा तो पुलिस के आला अधिकारी मौके पर आये .. और काफी मशक्कत के बाद भीड़ को काबू किया .. मामले में 17 पुलिसकर्मियों को भी चोट आई है और कुछ गाडिया भी डेमेज हुई है .. पुलिस ने सात  लोग मौके पर अरेस्ट कर लिए गये है और बाकी जिनकी शिनाखत  होगी उन्हें भी गिरफ्तार किया जाएगा .. मामले में पुलिस का कहना है की आम आदमी पार्टी के दोनों विधायको के खिलाफ  भी दंगा भडकाने का मामला दर्ज हो सकता है ..
बाईट - मधुर वर्मा ( DCP नार्थ ) टेक्स्ट - जब बुराड़ी के MLA साहब आये ..अनआईदंटी फाई व्हीकल था .. संतरी ने रोका इसी बात पर नाराज हो गये और आसपास के कार्यकर्ताओ की बुला लिया कार्यकर्ता आते गये .. पुलिस ने कोई लाठीचचार्ज नहीं .. कुछ शरारती तत्व भी आ गये .. पुलिस पर पथराव किया ..
वी ओ 3
पुलिस ने दंगा भडकाने और पब्लिक सम्पत्ति को डेमेज करने की धाराओं के तहत ममला दर्ज किया है .. पूरे हंगामे में पुलिस की बर्बरता तो सामने आई ही कही न कही आम आदमी पार्टी के विधायक भी जिम्मेदार है जो संतरी के अपनी ड्यूटी निभाने पर उनसे उलझे साथ ही उनके हजार से ज्यादा वालिंनटीयर थाणे पर जमा हुए . .. लेकिन मीडिया को अपने काम करते वक्त पुलिस द्वारा निशाना बनाने की बढती घटनाए भी चिंता का विषय है ..
...
अनिल अत्री दिल्ली .........


सोमवार, 29 दिसंबर 2014

..दिल्ली में मोदी का मास्टर स्ट्रोक, 895 अवैध कॉलोनियां होंगी नियमित

..दिल्ली में मोदी का मास्टर स्ट्रोक, 895 अवैध कॉलोनियां होंगी नियमित
एंकर -- दिल्ली में हर चुनाव से पहले अवैध कालोनियों को पक्का करने का जिन बाहर आता है .. राजधानी दिल्ली में चुनाव से ऐन पहले बीजेपी की केंद्र सरकार ने बड़ा दांव चलते हुए दिल्ली की 895 अवैध कॉलोनियों को नियमित करने को मंजूरी दे दी। इस पर लोग यकीन नहीं कर पा रहे है लोग चुनाव से पहले कई बार ये सुन सुन थक चुके है ..इस बार भी ये सुना तो लोगो ने कहा चुनावी लालच है होगा कुछ नहीं यदि एसा हुआ तो उसको अच्छा जरुर माना . कहा यदि एसा हुआ तो इससे बढिया बात नहीं पर इससे पहले खुद सोनिया गांधी ने भी प्रोविजनल सर्टिफिकेट बांटे थे तब भी पक्की नहीं हुई अब कैसे होगी विश्वाश नहीं ..बुराड़ी विधानसभा में 50 से ज्यादा एसी कालोनिया वहा कालोनियों के लोग विश्वास नहीं कर पा रहे है ..
बाईट - नरेंद्र कुमार पहचान बाईट में नाम बोला है
बाईट - संदीप मित्तल पहचान बाईट में नाम बोला है
बाईट - खेमचंद सैनी ( RWA पदाधिकारी अनाधिकृत कालोनी .. पहचान बाईट में नाम बोला है )
बाईट - प्रेमचन्द वर्मा ( पहचान बाईट में नाम बोला है )
वी ओ फाइनल - सरकार ने कैबिनेट की बैठक के बाद ये महत्वपूर्ण फैसला लिया है। कैबिनेट की मीटिंग खत्म होने के बाद वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा कि सरकार ने 31 मार्च 2002 से एक जून 2014 तक बसी 895 अवैध कॉलोनियों को नियमित किया है। केंद्र सरकार ने इन कॉलोनियों को नियमित कर आम आदमी पार्टी और कांग्रेस को बड़ा झटका दिया है। माना जा रहा है कि आने वाले विधानसभा चुनाव में सरकार के इस फैसले से दिल्ली में बीजेपी का फायदा हो सकता है। पिछली विधानसभा चुनाव के ऐन पहले तत्कालीन मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के हाथों 1407 अवैध कॉलोनियों को नियमित करने के लिए प्रोविजनल सर्टिफिकेट बंटवाया था। लेकिन इन कॉलोनियों को नियमित नहीं किया जा सका। अब ये कालोनिय पक्की होगी या नहीं ये तो वक्त बतायेगा पक्की होगी तो इतनी मूलभूत सुविधाए मिलेगी कैसे ..

अनिल अत्री दिल्ली ...................

गुरुवार, 25 दिसंबर 2014

दिल्ली में आर्य समाज ने स्वामी श्रद्धानंद जी का 88 वा बलिदान दिवस मनाया

दिल्ली में आर्य समाज ने स्वामी श्रद्धानंद जी का 88 वा बलिदान दिवस मनाया
एंकर - दिल्ली में आर्य समाज ने स्वामी श्रद्धानंद जी का 88 वा बलिदान दिवस मनाया ... इस मौके पर दिल्ली के चांदनी चौक इलाके में बलिदान भवन से शोभा यात्रा निकाली गई जो रामलीला ग्राउंड में पहुंची .. इसी बलिदान भवन की जगह स्वामी श्रद्धानंद जी शहीद हुये थे और जहा जहा से उनकी शव यात्रा गुजरी थी और लोगो ने अंतिम दर्शन किये थे वहा वहा से ये शोभा यात्रा निकली .. यात्रा में भारतभर से आर्य आये और गुरुकुलो के लडको व लडकियों ने शौर्यपूर्ण करतब दिखाए .. और रामलीला ग्राउंड में बड़ी सभा आयोजित हुई जिसमे दलित महिलाओं ने आर्य धर्म धारण किया ताकि वे उंच नीच भेदभाव से उपर उठ सके ..
वी ओ 1
ये शोभा यात्रा स्वामी श्रद्धानंद जी याद में निकाली गई है .. ये शोभा यात्रा सेंटर दिल्ली के बलिदान भवन से शुरू हुई है .. स्वामी श्रद्धानंद ने स्वराज्य हासिल करने, देश को अंग्रेजों की दासता से छुटकारा दिलाने, दलितों को उनका अधिकार दिलाने और पश्चिमी शिक्षा की जगह वैदिक शिक्षा प्रणाली का प्रबंध करने जैसे अनेक कार्य किए थे। सबसे बड़ी बात यह थी कि वह 18वीं शती में हिंदुओं और मुसलमानों के सर्वमान्य नेता थे। न्होंने दलितों की भलाई के कार्य को निडर होकर आगे बढ़ाया, साथ ही कांग्रेस के स्वाधीनता आंदोलन का बढ़-चढ़कर नेतृत्व भी किया। कांगे्रस में उन्होंने 1919 से लेकर 1922 तक सक्रिय रूप से महत्त्‍‌वपूर्ण भागीदारी की। 1922 में अंगे्रज सरकार ने उन्हें गिरफ्तार किया, लेकिन उनकी गिरफ्तारी कांगे्रस के नेता होने की वजह से नहीं हुई, बल्कि वे सिखों के धार्मिक अधिकारों की रक्षा के लिए सत्याग्रह करते हुए बंदी हुए थे। कांग्रेस से अलग होने के बाद भी वे स्वतंत्रता के लिए कार्य लगातार करते रहे। हिंदू-मुसलिम एकता के लिए स्वामी जी ने जितने कार्य किए, उस वक्त शायद ही किसी ने अपनी जान जोखिम में डालकर किए हों। वे ऐसे महान युगचेता महापुरुष थे, जिन्होंने समाज के हर वर्ग में जनचेतना जगाने का कार्य किया। लेकिन सत्य और कर्म के मार्ग पर चलने वाले इस महात्मा की एक व्यक्ति ने 23 दिसंबर, 1926 को चांदनी चौक दिल्ली में गोलियों से भूनकर हत्या कर दी। इस तरह धर्म, देश, संस्कृति, शिक्षा और दलितों का उत्थान करने वाला यह युगधर्मी महामानव मानवता के लिए शहीद हो गया। और उनकी हत्या जहा हुई उसी भवन से ये यात्रा निकली है और इसमें देशभर के गुरुकुलो से लडके लडकिया अपने करतब दिखा रहे है और खुद को मजबूत होकर दुश्मनों से लड़ने की प्रेरणा दे रहे है ..
( करतब दिखाते बच्चो के विसुअल ......................)
बाईट - विनय आर्य सक्रेटरी आर्य सभा दिल्ली प्रदेश
वी ओ 2
स्वामी श्र्धानंद जी को याद में इसके बाद सभी लोग दिल्ली के रामलीला ग्राउंड में जमा हुए .. भारतीय संस्कृति की रक्षा पर विचार रखे ... दलित महिलाओं इस मौके पर आर्य धर्म धारण किया .. इसका मकसद दलितों को भी समान बनाना ..जातिवाद छुआछूत से उपर उठाना इसका मकसद बताया ... इसके आयोजन का जिम्मा दिल्ली आर्य समाज पर था ..
बाईट - जोगिन्द्र खट्टर मीडिया प्रभारी दिल्ली आर्य समाज ...........
वी ओ 3
कार्य्रकम करीब पांच घंटे चला ..और अलग अलग राज्यों से आये आर्य विद्वानों ने संबोधित किया और मौजूदा हालात में संस्कृति को बचाने के उपायों पर चर्चा की .................
...........
अनिल अत्री दिल्ली ...............







.आचार संहिता से पहले उद्घाटनो व शिलान्यासो की शुरुआत ...

दिल्ली की नरेला विधानसभा में भारत रत्न अटल बिहारी वाजपयी के जन्मदिन के अवसर पर भाजपा द्वारा वरिष्ठ नागरिको के सम्मान का कार्य्रकम आयोजित किया गया .. इसी मौके पर भाजपा के पूर्व विधायक व मौजूदा निगम पार्षद ने अपने कामो का लेखा जोखा लिखित में प्रस्तुत किया .. इसकी कोपी सभी लोगो को दी गई जिससे देखा जा असके कौन सा काम कितनी लागत में कहा से कहा तक हुआ .. और किस अधिकारी की देख रेख में हुआ .. साथ ही इसी मौके पर 660 लाख रूपये से गलियों के निर्माण कार्य का शिलान्यास भी किया गया .. इसी दौरान मेयर व स्टेंडिंग कमेटी के चेयरमेन मौजूद थे ..
वी ओ 1
ये है दिल्ली की नरेला विधानसभा ... यहा आज उत्तरी दिल्ली नगर निगम के मेयर योगेन्द्र चंदोलिया व उत्तरी दिल्ली नगर निगम की स्टेंडिंग कमेटी के चेयरमेन मोहन भारद्वाज यह की निगम पार्षद केशरानी  नीलदमन खत्री के साथ 660 लाख रूपये की लागत से बनने जा रही गलियों का शिलान्यास कर रही है .. नरेला ग्रामीण इलाका है और ग्रामीण इलाके से स्टेंडिंग कमेटी के चेयरमेंन मोहन भारद्वाज बने है तो इसका फायदा इस एरिया को मिल रहा है .. साथ ही इस मौके पर भाजपा की निगम पार्षद केशरानी व पूर्व भाजपा विधायक नीलदमन ने इस साल इन दोनों के द्वारा किओये गये कामो का बयौरा लिखित में लोगो को दिया .. कौन सा काम कहा हुआ कितनी लागत आई .. कब पूरा हुआ जो बाकी है वो कब पूरा होगा और कौन अधिकारी उस काम को देख रहा है .. ये सब पारदर्शिता लाने के लिए किया गया है .. उत्तरी दिल्ली नगर निगम के मेयर योगेन्द्र चंदोलिया ने भी इस लेखा जोखा रखने की सराहना की और कहा वे निगम में सभी पार्टियों के पार्षदों से जनता के सामने ऐसा लेखा जोखा रखने की अपील करेगे बल्कि भाजपा के पार्षदों को तो जरुरी करने को कहा जाएगा ..
बाईट - योगेन्द्र चंदोलिया ( मेयर उत्तरी दिल्ली नगर निगम )
वी ओ 2
इस मौके पर साथ ही भारत रत्न अटल बिहारी वाजपयी के जन्मदिवस के अवसर पर वरिष्ठ नागरिक सम्मान समारोह आयोजित कर आसपास के सभी वरिष्ठ लोगो का सम्मान किया गया .. इस मौके पर भाजपा के पूर्व विधायक ने इस बार विधानसभा चुनाव में पिछली बार से दुगुने मतो से भाजपा की जीत का दावा इस विधानसभा से किया ..
बाईट - नीलदमन खत्री ( पूर्व विधायक नरेला भाजपा )
वी ओ  3
आज भाजपा ने पूरी दिल्ली में इस तरह से सभाए की और नरेला में खासकर आचार संहिता से पहले उद्घाटनो को कर लेने की जल्दी करते हुए ये नेता नजर आये .. अब नरेला ही नहीं पूरी दिल्ली में निगम के कामो का शिलान्यास व उद्घाटन आचार संहिता से पहले युद्ध स्तर पर करते नजर आयेगे ...............

..
अनिल अत्री दिल्ली ...................

मंगलवार, 25 नवंबर 2014

http://www.kesari.tv/delhi/3m5x4f0a0saygfym.html

रविवार, 5 अक्तूबर 2014

झारखंड के पूर्व मंत्री योगेंद्र साव को दिल्ली से गिरफ्तार...........................

 दिल्ली क्राइम ब्रांच और झारखंड पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन चला कर आज बडी कामयाबी हासिल की है। ज्वाइंट ऑपरेशन कर झारखंड के पूर्व मंत्री योगेंद्र साव को दिल्ली से गिरफ्तार kiyaa । साव पर नक्सलियों से रिश्ते रखने का आरोप है। झारखंड पुलिस
अनिल अत्री दिल्ली ...........

को काफी दिनों से पूर्व मंत्री की तलाश थी। इसके लिए झारखंड पुलिस ने सर्च ऑपरेशन चला रखा था और राजू नाम के एक शख्स को कुछ दिनों पहले ही गिरफ्तार किया था। पूछताछ में राजू ने कई अहम खुलासे किए और उसकी निशानदेही के आधार पर बडी कामयाबी हासिल की। साव पहाड़ गंज के एक अस्पताल में रुका हुआ था जहा से वह दिल्ली के ही शकूरपुर में किसी से मिलने आया और दिल्ली पुलिस और झारखंड पुलिस ने अरेस्ट कर लिया .. इसके लिए झारखंड पुलिस ने दिल्ली क्राइम ब्रांच से मदद मांगी थी। साव को आज दोपहर 2 बजे बाद दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में पेश किया गया जहा से साव को झारखंड पुलिस को तीन दिन के ट्रांजिस्ट ररिमांड के लिए सौपा गया ....  आरोपी साव को झारखंड आज शाम को ले जाया जाएगा। साव पर नक्सलियों से सांठ-गांठ बनाए रखने और उनकी मदद करने का आरोप है।   नक्सलियों से संबंध रखने के आरोप में साव के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया था। पुलिस कई दिनों से उनकी तलाश में थी। नक्सली ग्रुप झारखंड टाइगर्स से कथित तौर पर संबंध रखने का आरोप लगने के बाद हाल ही में योगेंद्र साव ने हेमंत सोरेन कैबिनेट से इस्तीफा दिया था। 

कौशिक इन्कलेव में शराब की दूकान खुलने का विरोध ..

कौशिक इन्कलेव में शराब की दूकान खुलने का विरोध ..
एंकर - दिल्ली के बुराड़ी विधानसभा के कौशिक इन्क्लेव में शराब की सरकारी दूकान के खुलने से पहले ही दूकान के आगे लोगो ने धरना दे दिया है और नारेबाजी व् विरोध जारी है ..महिला पुरुष सभी इसका विरोध कर रहे है .. पहले यहा कोई शराब की दूकान नहीं थी और यहा अब बस स्टेंड के पास निर्माणाधीन सरकारी अस्पताल के सामने ये सरकारी शराब की दुकान खुलने जा रही है.. सडक के दूसरी तरफ इस शराब की दूकान के सामने एक छोटा मन्दिर भी है .. मन्दिर व् स्कूल के पास शराब की दुकान नहीं खोली जा सकती पर यहा विभाग ने इस छोटे मन्दिर को शायद मंदीर  नही माना और लोग इसका विरोध कर रहे है ..इलाके के विधायक को उसके एरिया में शराब की दुकान खुलने से पहले सूचित किया जाता है इस पर विधायक का कहना है की उसको सूचित नहीं किया गया .. अब यहा के स्थानीय निवासियों का कहना है की किसी भी हाल में शराब का ठेका यहा नहीं खुलने दिया जाएगा ..
वी ओ 1
शराब का ठेका नहीं खुलेगा ....नही खुलेगा .. के नारे लगाते ये लोग है बुराड़ी विधानसभा की कौशिक इनक्लेव के निवासी .. यहा इनकी पूरी RWA धरने पर बैठी है और साथ में महिलाये भी आई है .. यहा शराब का ठेका खुलने का सिसिला उठा तो यहा के लोग गुस्से में हो गये .. ठेका अभी खुला नहीं बल्कि एक दूकान को ठेके के लिए किराए पर लिया गया है और यहा के लोगो का कहना है की  ठेके का प्रस्ताव यहा के लिए पास हो गया है यहा बसस्टेंड है ..सडक के दुसरो तरफ सामने मात्र सौ फीट पर मन्दिर व् निरामानाधीन अस्पताल है .. इस कारण यहा कानूनी रूप से ठेका नही खुल सकता पर पता नहीं अधिकारियों ने कैसे इसे पास कर दिया .. अब स्थानीय लोग इस शराब के ठेके के लिए ली गई दुकान के सामने धरने पर बैठ गये है और कहना है की किसी भी हाल में वे ठेका नहीं खुलने देंगे . यहा से महिलाओं का आना मुशकिल हो जाएगा .. बसस्टेंड पर महिलाये खड़ी भी नहीं हो पाएगी इसलिए यहा शराब का ठेका नही खुलना चाहिए .
बाईट - स्थानीय निवासी
बाईट - स्थानीय महिला
बाईट - स्थानीय निवासी
वी ओ 2
ठेका खुलने से पहले एरिया के विधायक को सूचित किया जाता है इसलिए यहा के लोगो ने विधायक को भी फोन कर धरने पर बुलाया .. विधायक ने खुद हैरानी जताई और कहा की हैरानी है की उन्हें सूचना ही नहीं इससे पहले भी एक बार हो चूका है जब सरकारी ठेका खुल रहा था और उन्हें सूचना नहीं दी गई थी .अब दूसरी बार भी इनके साथ ऐसा हुआ है इसको लेकर वे कल ही कमिश्नर साहब से मिलेगे .. और विधायक ने कहा की ठेके की यहा कोई जरूरत नहीं वे ठेका नहीं खुलने देंगे ..
बाईट - संजीव झा विधायक बुराड़ी
वी ओ 3
अभी स्थानीय लोग गुस्से में है और धरने पर बैठे है और इनका कहना है की किसी भी हाल में यहा शराब का ठेका नहीं खुलने दिया जाएगा ... अब देखने वाली बात होगी की अधिकारी अब क्या कदम उठाते है ..................
अनिल अत्री दिल्ली ..........