Monday, August 31, 2009

दिल्ली के गावं देहातों में कुस्ती, फुटबाल, और थ्रोबाल जैसे खेलों के लिए अब भी जनून है

video
देश में परपरागत खेलों के प्रति प्रेम अभी घटा नहीं है...दिल्ली के रोहिणी सेक्टर 18 के खेडा खुर्द गावं में २० वीं राष्ट्रीय थ्रोबाल चैंपियनशिप को इतनी भारी तादाद में देखने लोग आये यह इसी का प्रमाण है...इस परंपरागत खेल का उद्घाटन परंपरागत लोक गीत और लोक नर्त्य के साथ किया दिल्ली की मुख्यमत्री शीला दीक्षित ने आज तीन दिनों तक चलने वाली इस चैंपियनशिप का उद्घाटन ही नहीं किया बल्कि वहां उपस्थित महिला और पुरुष खिलाडियों को उत्साहित करते हुए कहा की वे इतनी मेहनत करें की कमान वेल्थ खेलों में खेल सकें....
दिल्ली के गावं देहातों में कुस्ती, फुटबाल, और थ्रोबाल जैसे खेलों के लिए अब भी जनून है...मुख्यमंती बेशक चाहे उनसे कमान वेल्थ खोलों में खेलने की तैयारी करने के लिए कह रही हो लेकिन हकीकत यह है की सरकार ने थ्रोबाल के लिए मिलाने वाली आर्थिक सहायता राशी भी बंद की हुई है...अ़ब थ्रोबाल असोसिएसन आफ दिल्ली द्वारा आयोजित इस चैंपियनशिप में जब मीडिया और मुख्यमंत्री से मिले तो वे थ्रोबाल खेल के महत्त्व का कमतर किये जाने के मलाल को छिपा नहीं पाए...लेकिन यह उम्मीद की की इस तरह के आयोजनों से गावं देहात से खेल प्रतिभाएं निकलकर सामने आयेंगी....
इस चैंपियनशिप में देशभर की श्रेठ ८ टीमों सहित कुल 17 टीमें भाग ले रहीं है....जो जितने के लिए पूरी जान लगा रहीं है..अ़ब विजता कौन होगा इसका फैसला 30 अगुस्त 2009 को होने वाले समारोह और पुरस्कार वितरण समारोह में होगा...

No comments:

Post a Comment