Tuesday, November 17, 2009

---स्कार्पियो गाड़ी से रोंद रोंध कर हत्या...बिलकुल फ़िल्मी स्टाईल में...

video
Video .. Click on Play... sign..
---स्कार्पियो गाड़ी से रोंद रोंध कर हत्या...बिलकुल फ़िल्मी स्टाईल में...मामला है मंगोल पूरी इलाके का..जहाँ सड़क पर दोड़ रही स्कार्पियो गाड़ी अचानक सड़क के बीच बने का डीवाईडर तोड़कर सड़क के दूसरी तरफ से आ रही बुलेट मोटरसाईकल पर चढ़ गयी...प्रत्यक्ष दर्शियों को हैरानी तब हुई जब सफ़ेद रंग की उस स्कार्पियो चालक ने गाड़ी रिवर्स कर उसे तब तक टक्कर मरता रहा जब तक की मोटरसाईकल सवार युवक की मोत नहीं हो गयी..और उसके बाद स्कार्पियों सवार चालक ने गाड़ी से निचे उत्तरकर नाचकर उसकी मोत का जश्न मनाया...पुलिस ने स्कार्पियों चालक पवन को संजीत नाम के उस शख्स की हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है...दोनों पडोसी थी और पुलिस के अनुसार दोनों के बीच किसी बात को लेकर कुछ समय पहले झगडा हुआ था...मर्तक के परिजनों के अनुसार पवन और संजीत के बीच पार्किंग को लेकर झगडा हुआ था...
इस स्कार्पियो गाड़ी को गौर से देखिये...इसके यह हालत की दुर्घटना में नहीं हुयी बल्कि इसमें बैठे सवार ने एक हत्या की है....वह भी फ़िल्मी सटाईल में....इस घटन स्थल को देखिये...इस पर बिखरा खून और यह टूटा डिवाईडर घटना की कहानी कह रहा है की किस तरह यह हादसा हुआ...स्कार्पियो गाड़ी सड़क के बीचो बिच बने डिवाईडर को तोड़ती सड़क के दूसरी और आर रही बुलेट मोटरसाईकल आ रहे संजीत नाम के शख्स पर चढ़ गयी...और उसपर जब तक टक्कर मारती रही जबतक की संजीत की मोत नहीं हो गयी...संजीत को मोत के साथ ही स्कार्पियो सवार गाड़ी से उतरकर नाचने लगा और चिल्लाने लगा की में बदला ले लिया...
हादसा मंगोल पूरी जे ब्लाक सड़क पर हुआ....स्कार्पियो चालक जब संजीत की इस तरह हत्या कर नाचने लगा तो वहां आने जाने वालों का गुस्सा फ़ुट पड़ा और उन्होंने न केवल पवन नाम के स्कार्पियो चालक की जमकर पिटाई की बल्कि उसकी गाड़ी पर भी जमकर गुस्सा निकला...उसे बुरी तरह क्षति ग्रस्त कर दिया और पवन को पुलिस के हवाले कर दिया...संजीत और पवन गर्ग किरादी इलाके में पड़ोस में ही रहते है...संजीत के पिता का कहना है की संजीत और पवन के बीच कुछ समय पहले पार्किंग को लेकर झगडा हुआ था...इस बात को लेकर दोनों के बिच रंजिश चल रही थी...लेकिन क्या इस मामूली बात पर संजीत की हत्या हो सकती है...बात पर यकीन कर हैरानी होती है...पुलिस यह तो मान रही है यह दुर्घटना का मामला नहीं हत्या का मामला है..और वह वजह क्या है इसकी जाँच में जूती है...
संजीत टीचर बनाना चाहता था...जेबीटी करने के बाढ़ वह इसके लिए प्रयाश भी कर रहा था...जबकि पवन गर्ग का संजीत के सामने ही बर्तन का कारोबार है...संजीत की हत्या की असली वजह क्या है यह तो पुलिस की जाँच के बाद साफ़ हो जायेगा लेकिन दोनों पड़ोसियों के बिच काफी मधुर सम्बन्ध थे..लेकिन क्या केवल पार्किंग को लेकर दोनों के बिच दुश्मनी ऐसी बड़ी की संजीत की इस बेदर्दी से हत्या हो गयी...यदि ऐसा है तो यह दिल्ली के हुक्मरानों को सावधान हो जाना चाहिए..कहीं ऐसा न हो की दिल्ली के पार्किंग समस्या प्राण लेने लग जाये...
ANIL Attri ........09717364000

No comments:

Post a Comment