Thursday, May 27, 2010

शायद उसने उन्हें समोहित सा कर दिया था..उसके जाने के बाद उन्हें नींद भी इतनी गहरी आयी जैसे वे बेहोश हो गए हो..

दिल्ली एक आई पी स्टेट इलाके के विक्रम कोलोनी के रहने हरशरण सिंह को फेरी लगाकर चाबी बनाने वाले से चाबी बनाना इतना महंगा पड़ गया की उनके घर की आलमारी से घर के परिजनों की मौजूदगी में ही करीब पञ्च लाख रुपये की ज्वेलरी से हाथ धोना पड़ा... घरवालों की मौजूदगी में ही वह चाबी बनानेवाला सरे जेवरात उड़ा ले गया..उसके बाद घर में मौजूद तीन सदस्यों के सामने ही उसने आलमारी की चाबी बनाई और कहा की उसने ताले में तेल डाला है आधे घंटे बाद ताल को खोलने की बात कहकर चला गया...आधे घंटे के इन्तजार में वे सो गयी उन्हें ऐसी नींद आये की उनकी आँख करीब सात बजे खुली..उन्होंने आलमारी संभाली तो देखा की उसमें से सारे जेवरात गायब थे...

वी-ओ-1
दिल्ली एक आई पी स्टेट इलाके के विक्रम कोलोनी के रहने हरशरण सिंह की पत्नी को एक फेरी लगाकर चाबी बनाने वाले से चाबी बनाना इतना महंगा पड़ गया की उनके घर की आलमारी से चाबी बनाने वाला उनकी मौजूदगी में ही सारे जेवरात ले उड़ा..इसका पता उन्हें एक घंटे बाद लगा...हरदीप कौर की पत्नी गुमीत कौर दिन में करीब साढ़े तीन बजे कूलर में पानी भर रही थी की तभी एक चाबी बनाने वाला आवाज लगता उनके घर के पास आया..उनके घर की आलमारी का लोक खरबा था जिसके लिए उसने उसे घर में बलकार ताला ठीक करवाया..चाबी बनाने वाले ने करीब आधा घटे तक उनके सामने ही चाबी बनानी शुरू की..और उसक बाद कहा की उसने ताले में तेल डाला है कुछ देर बाद खोलना..उसके बाद घर में मौजूद सभी लोग सो गए..लेकिन जब शाम करीब पञ्च बजे उठे और उन्होंने पानी आलमारी संभाली तो देखा उसमें से उनकी ज्वेलरी घायब थी..वह चाबी बनाने वाला करीब पञ्च लाख रुपये की ज्वेलरी ले उड़ा..घर के लोगों का कहनाह है शायद उसने उन्हें समोहित सा कर दिया था..उसके जाने के बाद उन्हें नींद भी इतनी गहरी आयी जैसे वे बेहोश हो गए हो..

बाईट----गुरमीत कौर ( ( मेरे घर का टला ख़राब था वह ठीक करने के लिए उसे बुलाया...उसने आलमारी की चाबी मांगी में दे दी..उसने लीवर खराबा बताया की यह बदलना पड़ेगा...वह आलमारी के अन्दर घुसा हुआ था में सामने ही बैठी थी..उसने कहा की उसे बुखार है मेरे लडके ने उसे गोली दी.फिर उसने रुई तेल में भिगोकर मांगी..वह भी दे..उसके बाद वह चला गया...हम सो गयी जब सात बजे उठे और अलमारी देखि तो उसमें से सारे जेवरात गायब थे... )
वी-ओ-२
जाहिर है चोर ने आँख से काजल चुरानी वाली कहावत के करीब काम किया है...हरशरण सिंह का लाजपत राय मार्केट में दुकानदारी का काम है....वे दोपहर को हमेशा सोते है..जब चाबी बनाने वाले ने कहा की वे अलमारी को कुछ देर बाद खोले तो वे सो गए..इतने गहरी नीदं में की आज तक ऐसी नींद नहीं आयी....घरवालों को लगा जैसे किसी ने सम्मोहित कर दिया हो..इसकी शिकायत आपी स्टेट पुलिस में की है पुलिस मामले की जाँच कर रही है...
Anil Attri ............

2 comments:

  1. बहुत सतर्क रहने की आवश्यक्ता है.

    ReplyDelete